प्रिय पाठक,

जनपक्ष का गठन केवल और केवल लोगो की उस सोच को परिवर्तित करने के लिए हुआ था की तंत्र गूंगा और बहरा होता हैं| आप अपनी शिकायते हमें भेज सकते हैं हमारी टीम उसपर कार्यवाही कर आपको अवगत कराएगी| हमारे द्वारा दी गयी सभी प्रकार की सुविधाए निशुल्क हैं|

[contact-form-7 404 "Not Found"]

आप सभी के प्यार, स्नेह व विश्वास के लिए कोटि कोटि धन्यवाद|