तेलंगाना रेप और निर्मम हत्या के चारों आरोपियों पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर
तेलंगाना रेप और निर्मम हत्या के चारों आरोपियों पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर

हैदराबाद के शादनगर में जानवरों की डॉक्टर से रेप और निर्मम हत्या के केस ने एक चौंकाने वाला मोड़ ले लिया है। शुक्रवार सुबह ही केस के चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया।

अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस जांच के लिए इन आरोपियों को मौका-ए-वारदात पर लेकर गई थी। चारों ने वहां से भागने की कोशिश की, जिस पर पुलिस ने उन्हें वहीं ढेर कर दिया। घटनास्थल पर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी पहुंच चुके हैं।

बता दें कि हैदराबाद शादनगर में जानवरों की डॉक्टर से रेप और हत्या के केस में पुलिस ने चारों आरोपियों शिवा, नवीन, केशवुलू और मोहम्मद आरिफ को पुलिस रिमांड में रखा था।

बताया जा रहा है कि पुलिस जांच के लिए चारों को उस फ्लाइओवर के नीचे लेकर गई थी, जहां उन्होंने पीड़िता को आग के हवाले किया था। वहां क्राइम सीन को रीक्रिएट किया जा रहा था। इसी बीच चारों ने भागने की कोशिश की।

इस पर पुलिस ने प्रतिक्रिया करते हुए गोलियां चलाईं और मुठभेड़ में चारों को ढेर कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस कमिश्नर ने इसकी पुष्टि की है।

बता दें कि हैवानियत भरे इस कांड के बाद से देश भर में उबाल था और चारों को फांसी दिए जाने की मांग उठ रही थी। जहां इन आरोपियों को लेकर जाया गया, इन्होंने रेप के बाद के डॉक्टर की हत्या करके शव को वहीं जलाया था।

बता दें कि 27 नवंबर की रात 27 साल की जानवरों की डॉक्टर को इन दरिंदो ने अपनी हैवानियत का शिकार बनाया था। शराब पीते हुए आरोपियों ने डॉक्टर को स्कूटी पार्क करते हुए देखा था और प्लान बना लिया था। स्कूटी की हवा निकालकर पहले मदद का बहाना किया और फिर मोबाइल छीन लिया।

इसके बाद चारों आरोपियों ने डॉक्टर के साथ बारी-बारी से दरिंदगी की और गला दबाकर हत्या कर दी। ये यहीं नहीं रुके। हत्या के बाद शव को ट्रक में रखकर टोल बूथ से करीब 25 किलोमीटर दूर एक ओवरब्रिज के नीचे फेंक दिया और फिर पेट्रोल-डीजल छिड़कर आग के हवाले कर दिया। सुबह एक दूध बेचने वाले ने जले हुए शव को देखकर पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद इस हैवानियत के बारे में पता चला।

तेलंगाना के कानून मंत्री इंद्रकरण रेड्डी ने इसे भगवान का न्याय’ बताया
महिला डॉक्टर से गैंगरेप और मर्डर के सभी चारों आरोपियों के एनकाउंटर में ढेर होने को तेलंगाना के कानून मंत्री इंद्रकरण रेड्डी ने ‘भगवान का न्याय’ बताया है। उन्होंने अपने राज्य की पुलिस की पीठ थपथपाते हुए कहा कि आरोपियों ने भागने की कोशिश की थी तो उन्हें मार गिराया गया।

पीड़िता के पिता ने भी इस पर एक न्यूज एजेंसी से बात करते हुए कहा कि यह इंसाफ है और मेरी बच्ची की आत्मा को इससे शांति मिलेगी। पीड़िता की बहन ने कहा कि यह कार्रवाई भविष्य के लिए नजीर होगी।

एक चैनल से बातचीत करते हुए रेड्डी ने कहा कि आरोपियों को भगवान ने उनके किए की सजा दी है। उन्होंने कहा कि आरोपियों ने भागने की कोशिश की थी तो मार गिराया। इससे हैदराबाद समेत पूरे देश में खुशी है। उन्होंने यह दावा भी किया कि वह पुलिस के हथियार लेकर भागने की कोशिश कर रहे थे।

बच्चियों ने सड़क पर खड़ी पुलिस को बोला धन्यवाद
गैंगरेप और मर्डर कांड के आरोपियों के एनकाउंटर को लेकर हैदराबाद समेत पूरे देश में लोग खुशी जता रहे हैं। हैदराबाद में बस से स्कूल जाती बच्चियों का भी एक विडियो सामने आया है, जिसमें वह रोड पर खड़ी पुलिस को हाथ हिलाकर धन्यवाद करती दिखाई दीं।

Leave a Reply