CJI बरी मामले के खिलाफ SC में प्रदर्शन, धारा 144 लागू

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई
चीफ जस्टिस रंजन गोगोई


मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के खिलाफ यौन उत्पीड़न मामले में क्लीन चिट के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के बाहर विरोध प्रदर्शन चल रहा है। विरोध प्रदर्शन में कुछ महिला वकील और सामाजिक कार्यकर्ता शामिल हैं। हालात देखते हुए सुप्रीम कोर्ट के बाहर धारा 144 लगाई गई है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने इस दौरान कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में भी लिया है।

अमर्यादित आचरण के आरोपों मे मुख्य न्यायाधीश को क्लीनचिट देने और महिला के आरोपों मे कोई तथ्य न पाए जाने पर इन हाउस कमेटी की रिपोर्ट के विरोध मे कुछ वकीलों और महिला कार्यकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट के बाहर किया प्रदर्शन। पुलिस ने कुक प्रदर्शनकारियों को लिया हिरासत मे लिया हैं और सर्वोच्च नयायालय के आसपास के क्षेत्रो में धारा 144 भी लगा दी हैं|

सर्वोच्च नयायालय की वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह ने मुख्य न्यायाधीश को क्लीन चीट दिए जाने को बड़ी साजिश करार दिया है। उन्होंने आंतरिक जांच कमेटी की रिपोर्ट को सार्वजनिक करने की मांग की है। इससे पहले अमर्यादित आचरण के आरोपों के मामले में प्रधान न्यायाधीश (सीजेआइ) रंजन गोगोई को सुप्रीम कोर्ट की आंतरिक जांच कमेटी से क्लीनचिट मिल गई क्योकि कमेटी ने महिला की शिकायत को खारिज कर दिया था। अपनी रिपोर्ट में कमेटी ने कहा है कि महिला की शिकायत में कोई ठोस तत्व नहीं मिला है।

सुप्रीम कोर्ट के सेक्रेटरी जनरल की ओर से वेबसाइट पर जारी नोट में इंदिरा जयसिंह बनाम सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया के 2003 के पूर्व फैसले का हवाला देते हुए कहा गया है कि आंतरिक जांच कमेटी की रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं की जाएगी।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट की पूर्व महिला कर्मचारी ने 19 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट के 22 न्यायाधीशों को हलफनामा भेजकर प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई पर अमर्यादित आचरण के आरोप लगाए थे।

Jeevan Pant

Leave a Reply