Facebook has out now from top 10 brand list.
Facebook has out now from top 10 brand list.

फेसबुक दुनिया के टॉप दस बेस्ट ब्रैंड्स की लिस्ट से बाहर हो गया है। प्राइवेसी स्कैंडल और लम्बी जांच प्रक्रियाओं के चलते फेसबुक ने दुनिया के दस सबसे वैल्युएबल ब्रैंड्स में अपना स्थान खो दिया है। बेस्ट टॉप 100 ब्रैंड्स की ग्लोबल ब्रैंड कंसल्टेंसी इंटरब्रैंड्स एनुअल रैंकिंग में इस बार फेसबुक का 14 वां स्थान आया है। वहीं, गूगल लिस्ट में टॉप पर रहा है।

दो साल पहले इस सोशल नेटवर्किंग साइट का इस लिस्ट में आठवां स्थान आया था। इस लिस्ट में एपल टॉप पर है और उसके बाद क्रमश: गूगल और ऐमजॉन ब्रैंड हैं। इस सूची में माइक्रोसॉफ्ट ने चौथा स्थान पाया है। वहीं, कोका-कोला ने पांचवां और सेमसंग ने छठा स्थान पाया है। लिस्ट में सातवां स्थान टोयोटा कंपनी को मिला है। इसके बाद मर्सडीज कंपनी आठवें स्थान पर आई है। उधर मैकडोनाल्ड को नौवां और डिज्नी को दसवां स्थान मिला है।

फेसबुक के लिस्ट में शामिल नहीं होने पर यूएस बेस्ड सॉफ्टवेयर कंपनी सेल्सफोर्स के सीईओ मार्क बेनिऑफ ने इस सोशल नेटवर्किंग प्लेफॉर्म को ऐसी ‘नई सिगरेट’ बताया है, जो बच्चों की लत बन रही है।

गौरतलब है कि फेसबुक प्राइवेसी उल्लंघन को लेकर यूएस फेडरल ट्रेड कमिशन (FTC) के सामने सेटलमेंट के रूप में 5 बिलियन डॉलर के भुगतान के लिए तैयार हुआ है। स्वतंत्र रिचर्स फर्म Ponemon इंस्टीट्यूट द्वारा 2018 में किये गए एक सर्वे के अनुसार, 87 मिलियन यूजर्स को प्रभावित करने वाले कैंब्रिज एनालिटिका डेटा स्कैंडल के बाद, यूजर्स का फेसबुक में विश्वास 66 फीसद तक गिर गया है।

Leave a Reply